25 Nov 2018

जॉर्ज बर्नार्ड शॉ | थियोडोर रूसवेल्ट | बेंजामिन फ्रैंकलिन | मेसन कूली | एंड्रू कार्नेगी के विचार हिंदी में

0 comments

“किसी पुरुष या महिला के पालन-पोषण की आज़माइश तो एक झगड़े में उनके बर्ताव से होती है। जब सब ठीक चल रहा हो तब अच्छा बर्ताव तो कोई भी कर सकता है।”
~जॉर्ज बर्नार्ड शॉ
 

“लोगों के साथ सामंजस्य स्थापित कर पाना ही सफ़लता का एक अति महत्त्वपूर्ण सूत्र है”
~थियोडोर रूसवेल्ट
 

“आप रुक सकते हैं लेकिन समय नहीं रुकता।”
~बेंजामिन फ्रैंकलिन
 

“जो समय मैं नष्ट कर रहा हूं, वह मुझे नष्ट कर रहा है।”
~मेसन कूली
 

“चाहे वे कितने ही प्रतिभाशाली क्यों न हो, अपने आपको प्रेरित करने में असमर्थ लोगों को औसत परिणामों से ही संतुष्ट होना पड़ता है।”
~एंड्रू कार्नेगी