जे स्टिफ़न | सुकरात | दलाई लामा | स्टीव जॉब्स | बर्नार्ड बेरेंसन के विचार हिंदी में

Share:


☞प्रकृति, आत्मा, जे स्टिफ़न
“हर व्यक्ति अपने में एक अज्ञात प्रकृति का पूरा महाद्वीप लिये बैठा है। प्रसन्न वह रहता है जो इसमें से अपनी आत्मा को ढूंढने के लिये कोलंबस का रूप धरता है।”
~जे स्टिफ़न


☞सम्मान,तरीका,सुकरात
“इस दुनिया में सम्मान के साथ जीने के लिए सबसे बड़ा तरीका है कि हम वे बनें जो हम होने का दिखावा करते हैं। ”
~सुकरात


☞व्यवहार,शांति,दलाई लामा 
“दूसरों के व्यवहार को आप अपने मन की शांति को नष्ट न करने दें। ”
~दलाई लामा


☞अंतर्दृष्टि,सच,स्टीव जॉब्स 
“अपने मन और अंतर्दृष्टि का अनुसरण करने का साहस करें क्योंकि उन्हें किसी तरह से पहले से पता है कि आप सच में क्या बनना चाहते हैं।”
~स्टीव जॉब्स


☞चमत्कार,विश्वास,बर्नार्ड बेरेंसन 
“चमत्कार केवल उन लोगों के साथ होते हैं जो उन में विश्वास करते हैं। ”
~बर्नार्ड बेरेंसन