27 Nov 2018

नेल्सन मंडेला | गांधी | अरस्तू | विलियम आर्थर वार्ड | चार्ल्स डिकिन्स के विचार हिंदी में

0 comments

“शत्रु के साथ आपको शांति अगर चाहिए, तो आपको अपने शत्रु के साथ काम करना होगा। फिर वह आपका साथी बन जाएगा।”
~नेल्सन मंडेला
 

“विवेक के मामलों में बहुमत के नियम का कोई स्थान नहीं है।”
~मोहनदास करमचंद गांधी 
 

“मैंने दार्शनिकता से सीखा है कि मैं वह सब कुछ बिना आदेश के करता हूं जो आम लोग कानून के डर से करते हैं।”
~अरस्तू
 

“मेरी खुशामद करें तो मैं शायद आप पर विश्वास नहीं करूंगा। मेरी आलोचना करें, तो मैं शायद आपको पसंद नहीं करूंगा। मुझे अनदेखा करें, तो शायद मैं आपको माफ नहीं करूंगा। मुझे प्रोत्साहित करें, तो मैं आपको कभी भुला नहीं सकूंगा।”
~विलियम आर्थर वार्ड
 

“खुश रहना और संतुष्ट रहना सौन्दर्य बढ़ाने और युवा बने रहने के श्रेष्ठ तरीके हैं।”
~चार्ल्स डिकिन्स