24 Nov 2018

पॉल स्वीनी | गैरीसन कीलर | जॉर्ज मूर के विचार हिंदी में

0 comments

“अश्रु वे शब्द हैं जिन्हें हृदय व्यक्त नहीं कर सकता।”
~अज्ञात
 

“खुश होने का मतलब यह नहीं कि सब कुछ उत्तम है। इसका मतलब है कि आपने कमियों के परे देखना शुरू कर दिया।”
~अज्ञात
 

“एक अच्छी पुस्तक पढ़ने का पता तब चलता है जब उसका आखिरी पृष्ठ पलटते हुए आपका कुछ ऐसा लगे जैसे आपने एक मित्र को खो दिया।”
~पॉल स्वीनी
 

“पुस्तक एक ऐसा तोहफ़ा है जो आप बार बार खोल सकते हैं।”
~गैरीसन कीलर
 

“वास्तविकता सपने को नष्ट कर सकती है; तो क्यों न सपना वास्तविकता को नष्ट करे?”
~जॉर्ज मूर