27 Nov 2018

हॉवर्ड शैंडलर क्रिस्टी | माइकल जोर्डन | जन. कोलिन एल. पावेल | परमहंस योगानंद | फिलिप डिक के विचार हिंदी में

0 comments

“हर सुबह मैं पंद्रह मिनट अपने मस्तिष्क में प्रभु की भावनाओं को समाहित करता हूं; और इस प्रकार से चिंता के लिए इसमें कोई स्थान रिक्त नहीं रहता है।”
~हॉवर्ड शैंडलर क्रिस्टी
 

“मैं अपने जीवन में बार बार असफल रहा हूं। और मैं इसी कारण से सफल होता हूं।”
~माइकल जोर्डन
 

“सफलता का कोई रहस्य नहीं हैं। यह तैयारी, कड़ी मेहनत और असफलता से सीखने का ही परिणाम होता है।”
~जन. कोलिन एल. पावेल
 

“असफलता का मौसम, सफलता के बीज बोने के लिए सर्वश्रेष्ठ समय होता है।”
~परमहंस योगानंद
 

“गंभीर समस्याओं का आधी रात में समाधान करने की कोशिश न करें।”
~फिलिप डिक