24 Nov 2018

अब्दुल कलाम | खलील जिब्रान | जॉन बैरिमोर | जेसिका सेविच | ऐन रैंड के विचार हिंदी में

0 comments

“सपने पूरे होंगे लेकिन आप सपने देखना शुरू तो करें।”
~अब्दुल कलाम
 

“बीता कल आज की याद है, और आने वाला कल आज का स्वप्न।”
~खलील जिब्रान
 

“जब तक उम्मीद की जगह अफ़सोस नहीं ले लेता, तब तक इंसान वृद्ध नहीं होता।”
~जॉन बैरिमोर
 

“आप ने चाहे कितने ही लक्ष्य क्यों न पूरे कर लिए हों, अपनी निगाह अगले लक्ष्य पर टिका लें।”
~जेसिका सेविच
 

“एक सृजनशील व्यक्ति कुछ कर पाने की उम्मीद से प्रेरित होता है, दूसरों को होड़ में हराने की उम्मीद से नहीं।”
~ऐन रैंड