स्टीव जॉब्स | जवाहरलाल नेहरु | स्वामी विवेकानंद | एंथनी डी'एंजेलो | विन बॉर्डेन के विचार हिंदी में

Share:

“अभिकल्पना किसी यंत्र की बाहरी बनावट मात्र नहीं है। अभिकल्पना तो इसकी कार्यविधि का मूल है।”
~स्टीव जॉब्स
 

“जीवन ताश के खेल के समान है. आपको जो पत्ते मिलते हैं वह नियति है; आप कैसे खेलते हैं वह आपकी स्वेच्छा है. ”
 ~जवाहरलाल नेहरु
 

“जागें, उठें और न रुकें जब तक लक्ष्य तक न पहुंच जाएं।”
~स्वामी विवेकानंद
 

“जीवन में सबसे महत्त्वपूर्ण वस्तुएं वस्तुएं नहीं होती।”
~एंथनी डी'एंजेलो
 

“अगर आप कदम उठाने से पहले सब सुनिश्चित करने की प्रतीक्षा करते है, तो संभव है कि आप कभी ज्यादा कुछ कर ही न पाएं. ”
~विन बॉर्डेन