नॉरमन विंसेंट पील | असीसी के संत फ़्रांसिस | टेरेसा | नॉर्मन कज़िंस | अन्ना पाव्लोवा के विचार

Share:

“जीवन में खुशी का अर्थ लड़ाइयां लड़ना नहीं, बल्कि उन से बचना है। कुशलतापूर्वक पीछे हटना भी अपने आप में एक जीत है।”
~नॉरमन विंसेंट पील
 

“शुरू में वह कीजिए जो आवश्यक है, फिर वह जो संभव है और अचानक आप पाएंगे कि आप तो वह कर रहे हैं जो असंभव की श्रेणी में आता है।”
~असीसी के संत फ़्रांसिस
 

“मीठे बोल संक्षिप्त और बोलने में आसान हो सकते हैं, लेकिन उनकी गूंज सचमुच अनंत होती है।”
~मां टेरेसा
 

“निराशावादी होने के लिए कोई भी पर्याप्त ज्ञान नहीं रखता।”
~नॉर्मन कज़िंस
 

“ केवल प्रतिभाशाली होने से ही काम नहीं चलता। ईश्वर प्रतिभा देता है तो प्रतिभा को विलक्षणता में परिणत कर देता है काम।”
~अन्ना पाव्लोवा