हैनरी वार्ड बीचर | एंथनी राबिन्स | जी.के.चेस्टरटन | स्वामी श्री सुदर्शनाचार्य जी के विचार हिंदी में

Share:

“विचारों को मूर्त रूप देने की क्षमता ही सफलता का रहस्य है।”
~हैनरी वार्ड बीचर
 

“समस्त सफलताएं कर्म की नींव पर आधारित होती हैं।”
~एंथनी राबिन्स
 

“इस धरा पर जैसा कोई विषय नहीं जो अरुचिकर हो; यदि ऐसा कुछ है तो वह एक बेसरोकार व्यक्ति ही हो सकता है।”
~जी.के.चेस्टरटन
 

“मानवता के दिशा में उठाया गया प्रत्येक कदम आपकी स्वयं की चिंताओं को कम करने में मील का पत्थर साबित होगा।”
~स्वामी श्री सुदर्शनाचार्य जी
 

“प्रत्येक व्यक्ति के लिए यह याद रखना बेहतर होगा कि सभी सफल व्यवसाय नैतिकता की नींव पर आधारित होते हैं।”
~हैनरी वार्ड बीचर